14 December, 2016

एक ऐसा इंसान जो बन गया गरीबो का भगवान | अच्छी पोस्ट


इस दुनिया में आपको कई तरह के लोग मिलेंगे पर ऐसे इंसान कोई कोई होते है जो दुसरो की हेल्प करते हो
और पूरी जिंदगी इसी में काम में बिता देते है। आज ऐसे इंसान के बारे में बताएंगे जो सिर्फ दुसरो के लिए जीता ही नही बल्कि दुसरो की जान भी बचाता है। आज ये इंसान गरीबो के लिए भगवान है।
मैं जिस इंसान की बात कर रहा हूँ इनका नाम ओमकार नाथ शर्मा है, इनकी उम्र 80 साल है और लोग इनको
Medicine Baba नाम से जानते है। कभी आपने सोचा है इस्तेमाल के बाद बची हुयी दवाइया जो आप फेक देते है वो किसी के काम आ सकती है। ओमकार नाथ जी इन्ही दवाइयों को घर घर जाकर मागते है जो आपके काम में नही आ रही हो। इन दवाइयों को अस्पताल और जो गरीब लोग इन महँगी दवाइयों को खरीद नही सकते
उनको ये डॉक्टर से सलाह लेकर देते है।

ये कहते है – अगर मेरे मांगने से लोगो की जान बचती है तो इसमें परेशानी क्या है।

हर महीने ढाई से तीन लाख रूपए तक की दवाएं जमा करते हैं। ये इस बात का भी ध्यान देते हैं की दवाइयां एक्सपायर नही हो। ओमकार नाथ जी कहते हैं मुझे इस तरह का medicine बैंक चलाने की प्रेरणा लक्ष्मी नगर में मेट्रो के लेंटर गिर जाने के हादसे के बाद मिली, जिसमे दो मजदूरो की तुरंत मृत्यु हो गयी और कई घायल हो गए थे। जो घायल थे उनके पास महँगी दवाइयां खरीदने के पैसे नही थे जिससे मेरे दिमाग में सोक सा लगा तबी से मैंने ये काम शुरू किया जिससे और गरीब मरीजो की हेल्प हो सके।


<<< पूरा लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें >>>



सूरज यादव नये ब्लॉगर है और उनका इस ब्लॉग को शुरू करने का उद्देश्य दूसरो को माेटिवेट करना है। उनके ब्लॉग पर विभिन्न मोटिवेशनल स्टोरी और लेख है जिन्हे पढ़कर पाठक लाभ उठा सकते है। आपसे  acchipost31@gmail.com पर स्म्पर्क किया जा सकता है।


यदि आप भी अपनी ब्लॉग पोस्ट को अधिक से अधिक पाठकों तक पहुंचाना चाहते है। तो अपने ब्लॉग की नई पोस्ट की जानकारी या सूचना हमें दें। अपनी ब्लॉग की पोस्ट शेयर करने के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल और अपने बारे में संक्षिप्त जानकारी एवं फोटो सहित हमें - iblogger.in@gmail.com पर ई-मेल करें।

No comments:
Write टिप्पणियाँ


Blog this Week