09 November, 2016

एक प्रयास : भूल चुके ब्लॉगों को भी मिलेगी नई पहचान


आई-ब्लॉगर टीम ने पिछले कई दिनों से कई बेहतरीन और अच्छे सुपाठय ब्लॉगों का अध्ययन किया, जिन्हे पढ़कर और उनके कंटेंट को देखकर ऐसा महसूस हुआ कि ब्लॉगर साथी मेहनत और लगन से ब्लॉग बनाते है और उसके लिए लगातार मेहनत भी करते है, लेकिन कुछ सालों बाद वो उसे भूल जाते है या उसे लावारिस छोड़ देते है। इस बारे में हम कुछ नही कह सकते है कि ऐसा क्यों हुआ होगा। लेकिन हाँ! इसके पीछे कई कारण हो सकते है जैसे किसी को परिवारिक समस्या तो किसी की नौकरी तो वहीं कुछ अपने व्यवसाय के चलते ब्लॉग के लिए समय नही दे पा रहे होंगे, वहीं कुछ इस दुनिया में नही रहे हो, जिस कारण उनका ब्लॉग लावारिस हो गया है।
इसे देखते हुए आई-ब्लॉगर के संस्थापक एडमिन श्रीमती खुशबू बिष्ट ने सुझाव दिया कि चलती गाड़ी में हर कोई सवार होना चाहता है, क्या हमें एक पल उनके बारे में नही सोचना चाहिए जिन्होने अपने ब्लॉग के लिए इतनी मेहनत की लेकिन किसी कारणवश वे ब्लॉग को नही चला पाये? उन्होने कहा कि क्या हम ऐसा नही कर सकते है कि जो ब्लॉग निषक्रिय है लेकिन उनकी सामग्री अच्छी हो जो पाठको को भी पसंद आये और इसके अलावा इन ब्लॉगों से नये ब्लॉगरों को भी अनुभव मिलेगा।
अब हमारी टीम इन भूले-बिसरे ब्लॉगों को एक नई पहचान देने की कोशिश करेगी ताकि उनके ब्लॉग से पठनीय और प्रेरक सामग्री से सक्रिय पाठको को लाभ मिल सके। इसके लिए इन ब्लॉगों को 'Unforgettable Blogs' श्रेणी में रखकर उनकी लिस्टिंग की जायेगी और साथ ही इन ब्लॉगों की पुरानी पोस्ट को लेकर उन्हे फिर से ब्लॉगर का परिचय और ब्लॉग की जानकारी के साथ आई-ब्लॉगर पर प्रकाशित किया जायेगा।
उन्होने कहा कि सक्रिय और अपडेट रहने वाले ब्लॉगों की लिस्टिंग तो सभी कर रहे है, लेकिन हम ऐसे ब्लॉगों की ओर पाठको का रूझान लाने का प्रयास करेंगे, ताकि कभी उस दौरान उन ब्लॉगों पर की गई मेहनत बर्बाद न हो। साथ ही हमारी टीम हिन्दी ब्लॉगरों का सम्मान करती है और हमारा यह एक छोटा सा प्रयास ब्लॉगरों और पाठको को जरूर पसंद आयेगा।

No comments:
Write टिप्पणियाँ


Blog this Week